कब रिझोगी प्यारी श्यामा,

कब रिझोगी प्यारी श्यामा,
कब रिझोगी प्यारी राधे॥

विछे भाग लूट त है मोहे॥ ,
करुणा सिन्धु' आगा दे राधे,॥
कब रिझोगी प्यारी राधे॥

इक तुम ही अब लम्बनाग्री,॥
अब तुम ही साथ दे राधे॥
कब रिझोगी प्यारी राधे॥
download bhajan lyrics (207 downloads)