मुझे केहते है हनुमान राम का दीवाना मैं

मेरे सीने में सिया राम बस यही नाम रज रज गाना मैं,
मुझे केहते है हनुमान राम का दीवाना मैं,

राम ने सारा जग समाया सारे जग में राम ही राम
जिस में मेरे राम नही उस चीज से मेरा फिर क्या काम,
राम ही सुख धाम ये ऐसो आराम सभी ठुकराना मैं,
मुझे केहते है हनुमान राम का दीवाना मैं,

जीवन के इस भाव सागर से राम नाम ही पार लगाये,
बोल दू मैं जब जय श्री राम सारे कारज सिद्ध हो जाए,
सिंगल भजे राम राम विनय जो सुबहो श्याम ये शीश जुकाना मैं,
मुझे केहते है हनुमान राम का दीवाना मैं,

download bhajan lyrics (564 downloads)