मेरा भोला मस्त मलंग आक धतुरा खावे

मेरा भोला मस्त मलंग मेरा भोला मस्त मलंग
आक धतुरा खावे पीवे घोट घोट के भंग
मेरा भोला मस्त मलंग मेरा भोला मस्त मलंग

तन मन दी कुझ होश नही है एसी चडी खुमारी
धिमक धिमक डमरू दी धुन ते थिरक रहे त्रिपुरारी
धूम मची केलाश के चारो तरफ बरसता रंग
मेरा भोला मस्त मलंग मेरा भोला मस्त मलंग

नंदी घन भी जोश च आके झूम के नचन गावन,
भुत प्रेत शनि ते शुकर रज रज ख़ुशी मनावन
रूप अजब है शिव भोले दा गजब अनोखा ढंग  
मेरा भोला मस्त मलंग मेरा भोला मस्त मलंग

बम भोले बम बम भोले दे गूंज रहे जयकारे,
स्वगा तो सोहने लगदे ने एह रंगीन नजारे
ख़ुशी अनोखी खुश दे दिल विच दास नवी ऐह उमंग
मेरा भोला मस्त मलंग मेरा भोला मस्त मलंग
श्रेणी
download bhajan lyrics (117 downloads)