गजानंद सरकार पधारो

गजानंद सरकार पधारो कीर्तन की तैयारी है
आवो आवो बेगा आवो॥, चाव दरश को भारी है
गजानंद सरकार पधारो कीर्तन की तैयारी है॥

थे आवो जद काम बणेला था पर सारी बाजी है॥
रणक भँवर गढ़ वाला सुणले चिंता म्हाने लागी है
देर करो ना अब दरशाओ चरणा म अर्ज हमारी है।
गजानंद सरकार पधारो कीर्तन की तैयारी है॥

रिद्धि सिद्धि ले आवो विनायक देवो दरशन थे भक्ता न॥
भोग लगावा धोक लगावा पुष्प चढ़ावा चरणा म
गजानंद थार हाथा म अब तो लाज हमारी है।
गजानंद सरकार पधारो कीर्तन की तैयारी है॥
आवो आवो बेगा आवो॥, चाव दरश को भारी है
गजानंद सरकार पधारो कीर्तन की तैयारी है॥
श्रेणी
download bhajan lyrics (896 downloads)