अब तेरे दर्शन बिन बाबा हम से राहा नही जाता

दर पे बुलाले श्याम धनि अब और साहा नही जाता,
अब तेरे दर्शन बिन बाबा हम से राहा नही जाता,
दर पे बुलाले दर्श दिखा दे,

दर पे आऊ दर्शन पाऊ और कोई दरकार नही
धन दोलत और शान और शोख्त,
का भी मन में विचार नही
तुम बिन व्यर्थ है सब कुछ बाबा अर्थ समज ये आता,
अब तेरे दर्शन बिन बाबा हम से राहा नही जाता,

जब जब ग्यारस आये बाबा मन में मेरे आस जगे
अब तो दर पे बुलाओ गे तुम ऐसा मुझको श्याम लगे
हम तेरे बिन रेह नही सकते तू कैसे रह जाता
अब तेरे दर्शन बिन बाबा हम से राहा नही जाता,

तेरे मेरे बीच ये दुरी और सही नही जाती
तेरे शीपू को सांवरिया तेरी याद सताती
तरस रहा टोनी दर्शन को क्यों न दर्श दिखाता,
अब तेरे दर्शन बिन बाबा हम से राहा नही जाता,
download bhajan lyrics (33 downloads)