तने बुलेट पे ले चालू इस बार के खाटू मेले में

ईब के फागण छोड़ चोदरंन दुनिया के झमेले ने,
तने बुलेट पे ले चालू इस बार के खाटू मेले में,

लाल फरारी घर पे छोड़ दे बस थोड़ा सा मान ले,
बैठ जा मेरी बुलेट के पीछे बात तू मेरी मान ले,
रींगस से पैदल चला गे हम भक्त के रेले में,
तन्ने बुलेट पे ले चालु खाटू मेले मे

जयपुर की तू ओढ़ चुनरी हाथा में मेहँदी मांड ले,
मैं पेहनु जैपुरियाँ साफा हाथ में श्याम निशान रे,
श्याम प्रेमिया संग नाचगे रहना नहीं अकेले में,
तन्ने बुलेट पे ले चालु खाटू मेले मे

देसी घी का कूट चूरमा श्याम ने भोग लगावा गे,
भगता की लाइन में लग के श्याम के दर्शन पावा गे,
जय श्री श्याम बुलावा गे हम हर बाबा के चेले ने,
तन्ने बुलेट पे ले चालु खाटू मेले मे

श्याम की मस्ती लूट चोदरंन छोड़ दिखावे भाजी तू ,
रोमी के संग भजन सुना के श्याम ने करले राजी तू,
श्याम की मस्ती बड़ी है सस्ती बिकती न पैसे ठेले में,
तन्ने बुलेट पे ले चालु खाटू मेले मे
download bhajan lyrics (208 downloads)