माये हंसा चाल मिरग नैन

माये हंसा चाल मिरग नैन दुलारे तोरे भुवन कहा,
भुवन कहा तोरे चरण कहा,

माई के द्वारे इक अँधा पुकारे
दो अंधे को नैना घर जाए वो माँ,
माये हंसा चाल मिरग नैन दुलारे तोरे भुवन कहा,

माई के द्वारे इक कोडी पुकारे,
देयो कोडी को काया घर जाए वो माँ
माये हंसा चाल मिरग नैन दुलारे तोरे भुवन कहा,

माई के द्वारे इक निर्धन पुकारे
देयो निर्धन को माया घर जाए वो माँ
माये हंसा चाल मिरग नैन दुलारे तोरे भुवन कहा,

माई के द्वारे इक बांजन पुकारे
देयो बांजन ललन घर जाए वो माँ
माये हंसा चाल मिरग नैन दुलारे तोरे भुवन कहा,