रात रात भर जागूँ बाबा नींदडली नहीं आवै

रात रात भर जागूँ बाबा नींदडली नही आवै
सपने माही श्याम धणी थारी प्यारी सूरत आवै

एक ओर तो जद मैं देखूँ श्याम नजर तूं आवै
तन्नै देखण खातिर बाबा आँख्या नां डट पावै

एक ओर तो जद मैं देखूँ बंसी धुन है सुनावै
बंसी नै सुणबा की खातिर,कान खड्या हो जावै

एक ओर तो जद मैं देखूँ लीलो नाच नचावै
नाच नाच कै टप टप करतो म्हारै कानी आवै

एक ओर तो जद मैं देखूँ मोरछडी लहरावै
घूम घूम कै श्याम धणी भगतां रा कष्ट मिटावै

एक ओर तो जद मैं देखूँ रवि भजन बनावै
भगतां सागै अमित यो बाबा नाच नाच कै गावै

लेखक:-रवि शर्मा(श्रीगंगानगर) 7062534590
गायक :-अमित बंसल (हनुमानगढ़)
download bhajan lyrics (16 downloads)