सुखा दी सवेर कर

सुखा दी सवेर कर हुन नहियो देर कर सबना दी मेहर कर झंडेवाली माँ
इतनी अर्जी साडी दाती मंजूर कर हूँ नहियो देर कर झ्न्देवाली माँ
सुखा दी सवेर कर

किथे न वैर हो हर पासे खैर हो कोई भी न गैर हो शेरावाली माँ
बिछड़ा दा मेल कर एहो जेहा खेल कर सबना ते मेहर कर शेरावाली माँ
सुखा दी सवेर कर

सच दिया रावा हॉवे प्रेम दियां छावा हॉवे हक दी कमाई हो तेरी वडीयाई हो
तेरा शुकराना हॉवे एहो जेहा खेल कर
सुखा दी सवेर कर

इतनी अर्ज साडी दाती पूरी करदे सुखा नाल वेहड़े मैया सब न दे भर दे
इतनी अर्जी साडी मंजूर कर राज दी एह गल दाती हूँ मंजूर कर
सबना ते मेहर कर चिन्तपुरनी माँ
सुखा दी सवेर कर
download bhajan lyrics (23 downloads)