जाम संवाली में जपने लगे राम राम

बजरंगी करते हुए आराम,
जाम संवाली में जपने लगे राम राम,

संकट जब बढ़ जाता है राम भगत गबराता है,
लेते है उनको शरण में थाम,
जाम संवाली में जपने लगे राम राम,

नाभि से जल जो निकलता है,
दुःख दर्द सारे वो हरता है,
बनते है बिगड़े हुए सब काम,
जाम संवाली में जपने लगे राम राम,

बजरंग शिव अवतारी है अजर अमरबलकारी है,
मनोहर पकड़े चरण सुबहो शाम,
जाम संवाली में जपने लगे राम राम,

श्रेणी
download bhajan lyrics (37 downloads)