थारी किरपा से बाबा द्वार थारे आउ

थारी किरपा से बाबा द्वार थारे आउ,
जेयू मैं जब तक संवारा गुणगान थारा गाऊ,
थारी किरपा से बाबा द्वार थारे आउ,

फागण की मस्ती बाबा बोलो कथे से लाउ
होली और दिवाली थारे दर पे ही मनाऊ,
दर पे न जो बुलाया बोलो कथे मैं जाऊ,
थारी किरपा से बाबा द्वार थारे आउ,

इत्र सी बारिशो में फूलो री वर्षा भारी,
भगता के सागे होली खेले श्याम बिहारी,
ऐसी किरपा हो जाए मैं उन में रंग जाऊ,
थारी किरपा से बाबा द्वार थारे आउ,

खाटू नगर के माहि मेरा सांवरो विराजो,
तोरण द्वार यो प्यारो स्वर्ग से सूंदर लागे,
रींगस से आता पैदल थाने भजन सुनाऊ,
थारी किरपा से बाबा द्वार थारे आउ,

तन रेवे माहरे वस में मनड़ो न माहरे वस में,
कद आवे जो बुलावो रह जावे कश्मकश में,
पंकज री विनती बाबा खाटू में वस् जाऊ,
थारी किरपा से बाबा द्वार थारे आउ,
download bhajan lyrics (49 downloads)