मेरे बाबा का दरबार सुहाना लगता है

मेरे बाबे का दरबार सुहाना लगता है ll
भक्तों का तो दिल दीवाना लगता है ll
मेरे बाबे का दरबार ,,,,,,,,,,,,,,,,,,,,

हमने तो, बड़े प्यार से, कुटिया बनाई है,
कुटिया में, बाबा तेरी, मूर्त सजाई है ll
ऐ जी अच्छा,,,जय हो lll, हमको,
तुम्हे सजाना, लगता है,
भक्तों का तो, दिल दीवाना, लगता है l
मेरे बाबे का दरबार सुहाना,,,,,,,,,,,,,,,

रंग बिरंगे, फूलों की, लड़ियाँ लगे प्यारी,
बाबा जी, तेरी सूरत, हमको लगे प्यारी ll
ऐ जी अच्छा,,,जय हो lll, हमको,
तुम्हे बुलाना लगता है,
भक्तों का तो, दिल दीवाना, लगता है l
मेरे बाबे का दरबार सुहाना,,,,,,,,,,,,,,,

हम तेरी, राहों में बाबा, खुद विछ जाएंगे,
सारी जिंदगी, बाबा जी तेरी, महिमा गाएंगे ll
ऐ जी अच्छा,,,जय हो lll,
हमको तेरे दर आना लगता है,
भक्तों का तो, दिल दीवाना, लगता है l
मेरे बाबे का दरबार सुहाना,,,,,,,,,,,,,,,
अपलोडर- अनिलरामूर्तिभोपाल
श्रेणी
download bhajan lyrics (66 downloads)