जिहना ने करवाया जगराता ओहना नु नचना पैना है

सोहन माँ दा भवन सज्या भोली माँ नु गहरे भुलाया,
किना करदे ओ प्यार माँ नु एह दसना पैना है ,
जिहना ने करवाया जगराता ओहना नु नचना पैना है

जिह्ना ने कंजका नु बुलाया जिह्ना ने सारा काजा रचाया,
गल विच पाके चुनिया ओहना नु नचना पैना है
जिहना ने करवाया जगराता ओहना नु नचना पैना है

माँ दी सच्ची ज्योत जगा के खुशिया दे आज ढोल बजा के ,
माँ दे रंग विच संगता नु आज मचना पैना है,
जिहना ने करवाया जगराता ओहना नु नचना पैना है

रोब्के बिट्टू दा कहना विनय ने बार बार केहंदेया रहना,
साहनु किना चाह है माँ नु दसना पैना है,
जिहना ने करवाया जगराता ओहना नु नचना पैना है
download bhajan lyrics (52 downloads)