बिन जोगी के कोई

क्या जग में लाया था, क्या लेकर जाएगा ll
बिन जोगी के कोई ll, न साथ निभाएगा ll

कलयुग में जोगी का, इक्क नाम अधारा है ll
दुःख दूर भगा देता ll, उसका जैकारा है ll

यह दुनियाँ मतलब की, कोई साथ निभाए न ll
वो झोलियाँ भरता है ll, कोई ख़ाली जाए न ll

किस बात पे रोते हो, किस बात का रोना है ll
जो नाथ मेरा चाहे ll, वही तो होना हैं ll

लाखों ही तारे हैं, मुझको भी तरेगा ll
क्यों राज कमल डोले ll, वो कष्ट निवारेगा ll

क्या जग में लाया था, क्या लेकर जाएगा ll
बिन जोगी के कोई ll, न साथ निभाएगा ll
धुन- रातों को उठ उठ कर
अपलोडर- अनिलरामूर्तिभोपाल
download bhajan lyrics (163 downloads)