एक वारि श्यामा दे द्वारे आके वेख लै

नाम वाली पींग दे हुलारे खा के वेख लै।
एक वारि श्यामा दे द्वारे आके वेख लै॥

पीले राधा नाम वाला अमृत दा प्याला तू।
उठदा सरूर फेर दिखदा निराला तू।
प्रेम नाल राधे राधे राधे गा के वेख लै॥

जीना राधा नाम वाली रटना लगाईं ए।
श्याम सलोना बना उनका सहाई ए।
ऐना प्रेमिया दे नाल रल के, तूवी गाके वेख लै॥

मस्ती दे नाल जेहड़े राधे राधे गांदे ने।
बांके बिहारी ओहनू वृन्दावन बुलांदे ने।
किवे चढ़दी ए नाम वाली खुमारी एक वारी आ के वेख लै॥

श्यामा दे द्वारे उते, अलख जगाई ए।
नाम वाली खैर राधे चोली विच पाई ए।
बनके दीवाना ओहदा नचके तू देखले॥

श्यामा जी दे भक्तां दी रहन्दी उच्ची शान ए।
सतरंगी पींग चढ़दी देख्दा जहाँ ए।
रेहमता दे वग रहे दरेआ आके वेख ले॥
download bhajan lyrics (692 downloads)