बाज रही बाज रही मोरी माई की पैजनियां भाज रही

बाज रही बाज रही मोरी माई की पैजनियां भाज रही,

ढोलक भाजे मिरदंग भाजे तबले की है तार,
भोले बाबा डमरू भजावे माँ गोरा के साथ,
बाज रही बाज रही मोरी माई की पैजनियां भाज रही,

नारद जी की वीणा भाजे भरमा देवे ताल,
अरे विष्णु देखो संख भजावे देयो तो मग्न है आज,
बाज रही बाज रही मोरी माई की पैजनियां भाज रही,

अरे हाथ खड़क तिरसूल विराजे माँ के रूप हजार,
अरे दशो दिशा में गूंजे मियां थारी जय जय कार,
बाज रही बाज रही मोरी माई की पैजनियां भाज रही,

ममता माई माँ मात भवानी सुनियो मेरी पुकार,
अरे अभिषेक तोरे चरण पड़े करियो भव से पार,
बाज रही बाज रही मोरी माई की पैजनियां भाज रही,
download bhajan lyrics (14 downloads)