हर ग्यारस जो खाटू जाते

हर ग्यारस जो खाटू जाते श्याम भगीची भी जाना,
आलू सिंह के चरणों में इक धोक लगा आना,
हर ग्यारस जो खाटू जाते श्याम भगीची भी जाना,

चमत्कार फिर होगा ऐसा जो तुमने सोचा है,
गवा देना न समय ओ बंदे मिला भाग्ये से मौका है,
जय बाबा की बोल बोल के भाव से उन्हें रिजा लेना,
आलू सिंह के चरणों में इक धोक लगा आना,
हर ग्यारस जो खाटू जाते श्याम भगीची भी जाना,

गुरवार ने ही गांव गांव में श्याम की ज्योत जलाई है,
कितने दीं दुखी हारो की विपता पल में मिटाई है,
कहना है यही हमारा जय जय गुरुवार कहना,
आलू सिंह के चरणों में इक धोक लगा आना,
हर ग्यारस जो खाटू जाते श्याम भगीची भी जाना,

आलू सिंह की जब मूरतियाँ राखी जब घर लाइ है,
दिन दुगनी रात चौगनी श्याम की किरपा पाई है,
इसे ज्यादा क्या समजाओ पाना है तो समज जाना,
आलू सिंह के चरणों में इक धोक लगा आना,
हर ग्यारस जो खाटू जाते श्याम भगीची भी जाना,
download bhajan lyrics (10 downloads)