सुन शेरा वालीए माँ तेरी याद सतांदी ए

सुन शेरा वालीए माँ तेरी याद सतांदी ए ।
तैनू अपने बच्चियाँ दी क्यों याद ना आंदी ए ॥

तेरे बछडे प्यारे माँ, दुख दर्द दे मारे हाँ,
माँ कोई नहीं अपना, इक तेरे सहारे हाँ ।
इस दुनियादारी दी कुछ समझ नी आंदी ए,
तैनू अपने बच्चियाँ दी क्यों याद ना आंदी ए ॥

माँ निकल के गुफ़ा विचों , इक झलक दिखा जावीं,  
इक लाल गरीबाँ दी, चोली विच पा देवीं ।
हर सखी सहेली माँ, मैनूँ ताने सुनाँदी ए,
तैनू अपने बच्चियाँ दी क्यों याद ना आंदी ए ॥

सुन अरज गरीबा दी इक करम कमा देवीं,
तू अपनी भक्ति दी मैनु डोर फड़ा देवी ।
इस जग दे अंदर माँ, तेरे लाल बुलांदे ने,
तैनू अपने बच्चियाँ दी क्यों याद ना आंदी ए ॥

भक्त नु तारदी ए, दुष्टां नु मारदी ए,
यह लीला अम्बे माँ भक्त नु भौंदी ए ।
तैनू अपने बच्चियाँ दी क्यों याद ना आंदी ए ॥
download bhajan lyrics (419 downloads)