ओ सँवारे कुछ ऐसा करम कर दे

श्याम मेरी ज़िंदगी का तू एहसान सफर कर दे,
ओ सँवारे कुछ ऐसा करम कर दे,

दर दर की मैंने खाई है ठोकर क्या तू नहीं जाने रे,
हारे का सहारा बन तू प्यार ब्रहम भर दे,
ओ सँवारे कुछ ऐसा करम कर दे,

अनहोनी को होनी कर दे क्या मैं नहीं जानू रे,
कर के करिश्मा इस दुनिया का दूर ब्रह्म कर दे,
ओ सँवारे कुछ ऐसा करम कर दे

पल भर में बाबा हरता है दुःख को दुनिया में,
सूरज रोहतिया के जीवन का सारा दुःख हर दे,
ओ सँवारे कुछ ऐसा करम कर दे
श्रेणी
download bhajan lyrics (12 downloads)