जय हो बजरंग बली भक्तों को तार दो

दुखों को दूर करो खुशियां न्योच्छार दो
जय हो बजरंगबली भक्तों को तार दो ल

मां अंजनी के लाल पवनसुत चाल पवन की आ जाओ
आन पड़ा हूं दर पे तुम्हारे बिगड़ी मेरी बना जाओ।
हमने सुना है तुमने दुखियों को तारा
मुझको भी दे जाओ सहारा
मेरे जीवन की बगिया तेरी भक्ति से गुलज़ार हो। जय हो.


राम नाम के रसिया हो तुम राम की सेवा करते हो
राम नाम का ध्यान धरे जो उसकी झोली भरते हो
आन पड़ा हूं दर पे तुम्हारे
छूट गए मेरे सारे सहारे
गाता रहूं महिमा में तेरी बस इतना सरकार दो। जय हो..


Bhajan by Roopsingh रैकवार
Navjyoti Musical Group Vidisha ंप
M N 8964983602
श्रेणी
download bhajan lyrics (118 downloads)