प्रभु राम की सेवा

प्रभु राम की सेवा करना जिनका काम है,
वो देव निराले बजरंगी हनुमान है,
वो अजर अमर है कलयुग में वरदान है वो हनुमान है,
प्रभु राम की सेवा......

मेहंदीपुर के बाबा जी है सालासर के धनियां,
चरणों में शीश झुकाती आ कर के सारी दुनिया,
संकट हरते है संकट मोचन नाम है वो हनुमान है,
प्रभु राम की सेवा

भुटटी न समज में आई पर्वत को उठा कर लाये,
निर्बल को बल देते है वीरो में वीर कहाये,
जिनकी किरपा से हर रास्ता आसान है हनुमान है,
प्रभु राम की सेवा.......

रक्शा मेरी तुम ही बजरंग बलि करते हो,
जो कुछ करते हो बाबा हारे की बलि करते हो,
किरपा से जिसकी सचिन को  हर आराम है,
वो हनुमान है हनुमान है,
प्रभु राम की सेवा