बाबा तेरी झांकी मंगल करती

बाबा तेरी झांकी मंगल करती सब के दुखड़े हरती बाबा तेरी झांकी,

मेहंदीपुर में वास तेरा से लीला अजब तिहारी से,
प्रेत राज और भेरव तेरे साथी भी बलधारी से,
दर पे सवाली भगत तेरे बन के खड़े पुजारी से,
प्यारी तेरी सूरत पे सब जाए बलिहारी से,
बाबा तेरी झांकी मंगल करती सब के दुखड़े हरती बाबा तेरी झांकी,

लाली लगे सिंदूर की तेरा चोला लाल निराला है,
सोना मंदिर मंदिर में तू राम भक्त मतवाला है,
नैना तेरे दो मोटे से भगतो पे जादू डाला है
हिरदये में सिया राम वसे हाथो में नाम का प्याला है
बाबा तेरी झांकी मंगल करती सब के दुखड़े हरती बाबा तेरी झांकी,

जिस ने देखि झांकी तेरी वो तुझपे कुर्बान गया
भगत कमल सिंह अब जय खोजू मिल मेरा भगवान् गया,
अगर जगत में क्या रेह जाता है जब तेरे में लग ध्यान गया
जिस के सिर पे हाथ तेरा वो धन्ये हो इंसान गया,
बाबा तेरी झांकी मंगल करती सब के दुखड़े हरती बाबा तेरी झांकी,