मैं मस्ती दे विच नचा नचावा नंदलाल नु

मैं मस्ती दे विच नचा नचावा नंदलाल नु
नचावा नंदलाल नु नचावा मदन गोपाल नु

मोर मुकुट तो सदके जावा
अपने हिरदय विच वसावा
मैं नटवर दीन दयाल नु नचावा नंदलाल नु
मैं मस्ती........

मुरली तू केह्डा पुन किता
हर दम होटा दा रस पिता
पिलावा लाल गोपाल नु नचावा नंदलाल नु
मैं मस्ती.......

अपने सुते भाग जगावा
चूम चूम मथे दे नाल लगावा
तेरे गल बैजन्ती माल नु नचावा नंदलाल नु
मैं मस्ती........

चरना दी चांजर एह कहन्दी
हरि नाम दी ला लई मेहंदी
होजा तू लालो लाल तू नचावा नंदलाल नु
मैं मस्ती........

पिला है पेतम्बर तेरा
लुटके ले गया दिल ओह मेरा
कदे ना पुछेया हाल नु नचावा नंदलाल नु
मैं मस्ती.......
download bhajan lyrics (196 downloads)