भोले के कांवड़िया मस्त बड़े मत वाले हैं

ॐ नमः शिवाय, ॐ नमः शिवाय

चली कांवड़ियों की टोली, सब भोले के हमजोली
गौमुख से गंगाजल वो लाने वाले हैं,
भोले के कांवड़िया मस्त बड़े मत वाले हैं

सब अलग अलग शहरों से चलकर आते हैं,
कंधे पे उठा के कावड़ दौड़े जाते है ।
है कठिन डगर पर ये ना, रुकने वाले हैं,
भोले के कावड़िया...

कोई भांग धतूरा बेल की पत्रि लाए है,
कोई दूध दही मलमल के तिलक लगाए हैं ।
यह सब मस्तानी शिव के, चाहने वाले हैं,
भोले के कावड़िया...

‘नोधी’ जिद्द छोड़ो कावड़ आप उठा भी लो,
संघ ‘लव’ के शिव भोले की महिमा गावी लो ।
‘सनी’ ‘दीपक’ भी साथ ही जाने वाले हैं
भोले के कावड़िया...

Singer: Love Raj Atwal.  9872162982
श्रेणी
download bhajan lyrics (198 downloads)