श्री राम जी की सेना चली

हाथ में भगवा झंडा मुख पे इक नाम,
राम के भक्त बोले गे जय श्री राम,
आगे आगे चले बजरंग बलि,
श्री राम जी की सेना चली,

हाथ गधा सिर राज तिलक है खुश रघु नंदन देख झलक है,
भक्तो की भगति है इतनी देख नजारे मन पुलकित है,
जय जय गूंज रही हर इक गली,
श्री राम जी की सेना चली,

कलयुग में है नाम अधारा राम का नाम ही सब से प्यारा,
धर्म की खातिर कदम बढ़ाओ एह धर्मी तुम धर्म निभाओ,
पापियों में मची खल बलि,
श्री राम जी की सेना चली,
श्रेणी