जब खुशियों की मारे पिचकारी रे

जब खुशियों की मारे पिचकारी रे,
मेरे मन की खिली फुलवारी ,
ऐसा मेरा संवारा सरकार,
ऐसा मेरा संवारा दिलदार,
है संवारा लखदातार,
जब खुशियों की मारे पिचकारी रे,

जग में ऊंचा है इनका नाम,
सारी दुनिया है इनकी गुलाम,
जब सितारों के खोले पिटारी रे,
चमकी किस्मत है पल में हमारी,
जब खुशियों की मारे पिचकारी रे,

गली चौबारे में चर्चे आम ,
झोली भरना है इनका काम,
जब सुख की लाये हरयाली रे,
जीवन में छाई खुशहाली
जब खुशियों की मारे पिचकारी रे,

हारे का सहारा है प्यारा श्याम,
प्यारा श्याम प्यारा श्याम,
जग में मशहूर खाटू धाम,
जब रंग की चढ़ाये खुमारी रे,
कीर्ति भूली है  ये दुनिया सारी,
जब खुशियों की मारे पिचकारी रे,
download bhajan lyrics (576 downloads)