होली खेलन दे

साई के रंग में साई के रंग में आज रँगाओ,
अपनी चुनर सारी रात होली खेलन दे,
खेलन दे होरी खेलन दे,
साई के रंग में आज रँगाओ अपनी चुनार सारी रात होली खेलन दे,

बादल से झर झर बदरियाँ आये मोरे घर साई सांवरियां,
जाने ना दूंगी सारी रात होली खेलन दे,

मोरी चुनरियाँ रंग रंगा दे,साई मोरे तू भाग जगा दे,
तुझपे फ़िदा हो तुजपे मैं वारि समजो मेरे जज्बाद होली खेलन दे,

पनघट से भर के लाउ गगरियाँ,
बीते तेरे संग होली उमेरियाँ,
कितने ही रंगो की बारिश है होने दे बरसात होली खेलन दे,

नैनो की भाषा नैना ही जाने,
जिस तन लागे वो पहचाने,
नैनो की मदिरा आज पिये गे हम साथ होली खेलन दे,
श्रेणी