होली खेल के जायेगे श्याम बाबा

फागुन में मस्ती की छाई बहार,
भगतो के मन में है खुशिया अपार.
खेले गेतुम संग होली आई है बाबा टोली,
होली खेल के जायेगे श्याम बाबा,
तुम्हे रंग लगाए गे श्याम बाबा,
अब के धूम मचाये गे श्याम बाबा,

है पूरी तयारी रंगो की पिश्कारी,
लाये है गिरधारी काहे शरमाये मेरे.
मोहन मुरारी सुन ले खाटू के राजा अब जल्दी बाहर आजा,
रंग भीड़ उड़ाए गे श्याम बाबा,
होली खेल के जायेगे श्याम बाबा......

तेरे लाखो प्रेमी आवे निशान चढ़ावे सब झूमे नाचे गावे,
आकर के क्यों न तू मस्ती बढ़ावे,
भगतो का भाग जगाते हम सबको रंग लगा दे,
वर्ण शोर माच्ये गे श्याम बाबा,
होली खेल के जायेगे श्याम बाबा,

ग्यारस पर अक्शर आये फागण का दर्शन पाये,
गुलाल भी लाये अपने हाथो तुम्हे रंग लगाये,
अब ना लेना परीक्षा दया की देदो भीक्शा,
महिमा तेरी गाये गे श्याम बाबा,
होली खेल के जायेगे श्याम बाबा,
download bhajan lyrics (60 downloads)