भूल चुक दिलो विसार असि ऑगन हारे

भूल चुक दिलो विसार असि ऑगन हारे,
तू है बक्शनहार ऐसी ऑगन हारे,

बचैया दी भुला नु चेते ल्यावी न,
ममता प्यार दुलार च फर्क तू पावी ना,
मंगे प्यारे दुलार असि ऑगन हारे

हर दम एह अरदास करि तेरे द्वारे,
अटकी बेहड़े दातिया तू लखा तारे,
हूँ साहनु भी तार असि ऑगन हारे

की कहिये की कहना है की कह सकिये,
एहना ही काफी है चरनी बह सकिये,
तू करता करतार असि ऑगन हारे

दुनिया दे विच रह के दुनिया दार होये,
साहिल मोह माया दे खिद मत दार होये,
बस इक वार निहार असि ऑगन हारे
श्रेणी
download bhajan lyrics (43 downloads)