सदा गुफा वाले जोगी नाल प्यार

सदा गुफा वाले जोगी नाल प्यार होर साहनु की चाहिदा,
एहना दिता ओहने दिता न संभाल,
सदा गुफा वाले जोगी नाल प्यार होर साहनु की चाहिदा,

रोट परशाद असि योगी ले बनाई दा,
जदो भी भुलाये ओह दो गुफा उते जाइदा,
ओह्दी किरपा नाल गया बाहरले मुल्क साडा लाल,
होर साहनु की चाहिदा.....

धुप देखाउने आ ते ज्योत जगाउने आ,
बाबा जी दी आरती नित आसी गाउने आ,
सेवा करदा है सारा परिवार,
होर साहनु की चाहिदा.....

सब कुछ दिता ओहने जो भी असि मंगया,
ओहदे रंगा दे विच तन मन रंगया,
बाहा फड के जोगी ने दिता तार,
होर साहनु की चाहिदा.....

घर विच बाबा जी दा मंदिर बनाया है,
धुना भी लगाया इ ते आसन सजाया है,
सोनी पटी वाला करदा दीदार,
होर साहनु की चाहिदा.....
download bhajan lyrics (235 downloads)