सेठ कहे तुझसे सेठ संवारा दीन कहे तुझे दीना नाथ

सेठ कहे तुझसे सेठ संवारा दीन कहे तुझे दीना नाथ,
तुम ही बताओ सेठ संवारे हो या तुम दीनो के नाथ,

सेठ बरे तेरी हज़ारी करते है तेरा मनुहार,
दीन करे बाबा तेरी चकारी आते दर पर ले परिवार,
इक भरोसा तेरा मुझको लाज मेरी है तेरे हाथ,
सेठ कहे तुझसे संवारा दीन कहे तुझे दीना नाथ,

मैं जो तुम्हे भुलाना चाहु घर आंगन में मेरे श्याम,
सोच सोच कर मैं सरमाऊ कहा बिठाऊगा मैं मेरे श्याम,
नहीं विशाने को है चादर नहीं है सिर पे मेरे छाँव,
सेठ कहे तुझसे संवारा दीन कहे तुझे दीना नाथ,

सुदामा के तंदुल भाये झूठे बेर शबरी के खाये,
दुर्योदन का महल त्याग कर विदुरानी के घर तुम आये,
सेठ कहे तुझसे संवारा दीन कहे तुझे दीना नाथ,
कब आओ गे घर तुम मेरे  टीकम से तू करले बात,
सेठ कहे तुझसे संवारा दीन कहे तुझे दीना नाथ,
download bhajan lyrics (46 downloads)