महादेव शंकर है जग से निराले

महादेव शंकर है जग से निराले बड़े सीधे साहदे बड़े बोले बाले,
मेरे मन के मंदिर में रहते है शिव जी ये मेरे नैन है उन्ही के शिवाले,
महादेव शंकर है जग से निराले.........

बना लो उन्हें अपने जीवन की आशा सदा दूर तुम से रहे गी निराशा,
बिना मांगे वरदान तुम को मिले गा,
समझते है वो तो हर इक मन की भाषा,
वो उनके है जो उनको अपना बना ले.,
महादेव शंकर है जग से निराले ....

जिधर देखो शिव की महिमा निराली ये दाता है और सारी दुनिया सवारी,.
जो इस द्वार पे  अपना विश्वाश करले तो पल भर में भर जायेगी झोली खाली.
उन्ही के अँधेरे उन्ही के उजाले महादेव शंकर है जग से निराले
श्रेणी
download bhajan lyrics (44 downloads)