गुफा दे विच रेहन वालियां

गुफा दे विच रेहन वालियां साहनु दर्श दिखा इक वारि,

छोटी उमरे जोग कमा लिया,
कलयुग विच बाल रूप बना लिया,
नाले गउआ न चरावे नाले हरी गुण गावे नाले खेड़े खेद न्यारे,
गुफा दे विच रेहन वालियां साहनु दर्श दिखा इक वारि

विच पहाड़ा दे डेरा ला लिया ले परथरी कॉल बैठा लिया,
नाले गउआ न चरावे नाले हरी गुण गावे नाले खेड़े खेद न्यारे,
गुफा दे विच रेहन वालियां साहनु दर्श दिखा इक वारि

तेरी अजमत नु गोरख आ गया,
तनु चेलिया ने गेरा पा लिया,
आ कद वाल है करतूता करदा तनु चेला बनान नु फिरदा,
मारी बैठ के मोर ते उडारी,
गुफा दे विच रेहन वालियां साहनु दर्श दिखा इक वारि

तेरे दर उते निर्मल आ गया,
तेरे चरना च शीश निभा गया,
रखी सब दा तू ध्यान तू ही जग दा पालन हारी,
गुफा दे विच रेहन वालियां साहनु दर्श दिखा इक वारि
download bhajan lyrics (66 downloads)