खैर झोली विच पुत्र दी पा दे

खैर झोली विच पुत्र दी पा दे तानिया तो जग दे बचा दे,
मैं मंगदी नि मैल माड़ी आ,
खैर झोली विच पुत्र दी पा दे

खाली झोली लेके पीड़ा दर तेरे आई आ,
मोड़ी न तू खाली एह आस लेके आई आ,
लाल झोली विच मेरे भी खिड़ा दे एह जग च रला दे,
मैं मंगदी नि मैल माड़ी आ,
खैर झोली विच पुत्र दी पा दे

लखा ही तू मावा दियां झोलियाँ भरियाँ,
मेरी वारि कातो पीड़ा  दरदा अडिया,
सूखे रुखा न फल हूँ ला दे ते बिगड़ी बना दे,
मैं मंगदी नि मैल माड़ी आ,
खैर झोली विच पुत्र दी पा दे

भेना नु तू वीर लाल मावा नु एह वंडदा,
रमन भी वीरा तेरे दर तो है मंगदा,
हरिंदर किंदी तेरा नाम ध्यावे के दर तेरे आवे,
मैं मंगदी नि मैल माड़ी आ,
खैर झोली विच पुत्र दी पा दे
श्रेणी
download bhajan lyrics (27 downloads)