माता भर दी झोलिया

सोहना है दरबार माई दा भगतो श्रद्धा नाल आई दा,
आई दा हर साल माता भरदी झोलिया.
भर दी रेहमता नाल माता भर दी झोलिया,

सियक्ला दे उते लाइयाँ भगता ने झंडियां उचियाँ पहाड़ा विचो ऑन पौने ठंढियां,
आउंदियाँ सतलुझो पार माता भरदी झोलियाँ,
भर दी रेहमता नाल माता भर दी झोलिया,

पौड़ी पौड़ी चढ़ दे भगत प्यारे रल मिल के सारे लॉन जयकारे,
लौंडे ने प्यार दे नाल माता भरदी झोलियाँ,
भर दी रेहमता नाल माता भर दी झोलिया,

माता भगता दे दुःख दूर करदी अपने बचया दी मियां बांह फड़ दी,
बेड़े हो गये मंगल दे पार माता भरदी झोलियाँ,
भर दी रेहमता नाल माता भर दी झोलिया,
download bhajan lyrics (56 downloads)