भगत प्यारे जी गणेश नु मनाउंदे ने

पारवती मैया जी दी अखियां दा तारा है,
शिव जी दा पुत्र एह सब न प्यारा है,
सारिया तो पहले भोग लडडुआ दा लगाउँदै ने,
भगत प्यारे जी गणेश नु मनाउंदे ने,

गणपति जी मेरे जिद्दी बाह फड़ लें गे,
पल्ला विच ओहदे सारे दुःख हर लेंगे,
घर विच पहले सारे आरती करवन्दे ने,
भगत प्यारे जी गणेश नु मनाउंदे ने,

रिद्धि सीधी गणपति नाल लेके आउंदे ने,
खुशियां लुटान्दे सब विघ्न मिटाउँदे ने,
सूखा वाले दिन फिर बच्चियां ते आउंदे ने,
भगत प्यारे जी गणेश नु मनाउंदे ने,

जय हो गणेश तेरी जय जय कार हो रही है,
सब जन कहन्दे जय जय गणपति बाबा मोरियाँ,
सच्चे नूर वाले सब शुक्र मनाउंदे ने,
भगत प्यारे जी गणेश नु मनाउंदे ने,
श्रेणी
download bhajan lyrics (26 downloads)