महाराज गजानन जी पधारो माहरे कीर्तन में

महाराज गजानन जी पधारो माहरे कीर्तन में,

सब देवो में सबसे पहले पूजा हॉवे थारी,
सब के पुराण काज बनाते वीगन मिटाते भरी,
संग रिद्धि सीधी लाओ जी पधारो माहरे कीर्तन में
महाराज गजानन जी......

देवो के सिर मोर बनायक बांटे उडीका थारी,
आन पधारो हे घनायक कीर्तन की है तयारी,
संग सुमति भी लाओ जी,पधारो माहरे कीर्तन में
महाराज गजानन जी.........

शंकर सुवन गोरा के नन्द भक्त तेरा गुण गावे,
ज्ञान भक्ति की ज्योत जला कर कीर्तन में है भुलावे,
विष्णु पे मेहर करो पधारो महारे कीर्तन एम्,
महाराज गजानन जी..........

श्रेणी
download bhajan lyrics (62 downloads)