राम मेरे आ जाओ

चित्रकूट के घाट घाट पर,
शबरी देखे बाट, राम मेरे आ जाओ lll
राम मेरे आ जाओ, राम मेरे आ जाओ ll
चित्रकूट के घाट घाट पर,,,,,,,,,,

अपने राम जी को, " कहाँ मैं बिठाऊँ " ll
टूटा फूटा खाट खाट पर, विछा पुराना टाट,
राम मेरे आ जाओ
राम मेरे आ जाओ, राम मेरे आ जाओ
चित्रकूट के घाट घाट पर,,,,,,,,,,

अपने राम जी को, " क्या मैं खिलाऊँ '' ll
छोटे छोटे पेड़ पेड़ पर, लगे सुनहरे बेर,
राम मेरे आ जाओ
राम मेरे आ जाओ, राम मेरे आ जाओ
चित्रकूट के घाट घाट पर,,,,,,,,,,

अपने राम जी को, " कैसे रिझाऊँ " ll
दीन हीन मोहे जान, ना ही कोई, भक्ति ना ही ज्ञान,
राम मेरे आ जाओ
राम मेरे आ जाओ, राम मेरे आ जाओ
चित्रकूट के घाट घाट पर,,,,,,,,,,

अपने राम जी के, " चरण पखारूँ " ll
नैन से व्हे जो नीर, नीर है सुरसर जैसे तीर,
राम मेरे आ जाओ
राम मेरे आ जाओ, राम मेरे आ जाओ
चित्रकूट के घाट घाट पर,,,,,,,,,,

अपने राम जी को, " झूला मैं झुलाऊँ " ll
हरे भरे हैं पेड़, पेड़ पर झूले सीता राम,
राम मेरे आ जाओ
राम मेरे आ जाओ, राम मेरे आ जाओ
चित्रकूट के घाट घाट पर,,,,,,,,,,

टूटा फूटा खाट खाट पर, विछा पुराना टाट,
राम मेरे आ जाओ
छोटे छोटे पेड़ पेड़ पर, लगे सुनहरे बेर,
राम मेरे आ जाओ
दीन हीन मोहे जान, ना ही कोई, भक्ति ना ही ज्ञान,
राम मेरे आ जाओ
नैन से व्हे जो नीर, नीर है सुरसर जैसे तीर,
राम मेरे आ जाओ
हरे भरे हैं पेड़, पेड़ पर झूले सीता राम,
राम मेरे आ जाओ,,,,,,,,,,,,,,,,,,
अपलोड कर्ता- अनिल रामूर्ति भोपाल बाघीओ वाले  
श्रेणी
download bhajan lyrics (131 downloads)