ढोल भाजे माये नि तेरे ढोल भाजे

ढोल भाजे माये नि तेरे ढोल भाजे,
संगत नाचे माये नि तेरी संगत नाचे,
शेरो वाली मेहरो वाली सब की है तू माँ रखवाली,
तेरे द्वार पे डंका बाजे,
ढोल भाजे माये नि तेरे ढोल भाजे,

दिन रात माँ द्वार पे तेरे लगते है माँ मेले,
तेरे दर पर हर पल मइयां लगते भक्तो के रेले,
ठंडी शीतल माँ तेरी दर की प्यारी गोपाला,
ढोल भाजे माये नि तेरे ढोल भाजे,

लेके मुरादे दर पे जो आते खाली कभी नहीं जाते,
दूर दूर से भकत माँ तेरे तुजको भेट चढ़ाते,
बीच पहाड़ो भवन माँ तेरा सब को प्यारा लागे,
ढोल भाजे माये नि तेरे ढोल भाजे,

लाल रंग के झंडे तेरे दर पे माँ लहराए,
आसमान  में उड़ते पंक्षी तेरी जय जय भुलाये,
अष्ट भुजी माँ वैष्णो रानी की हनुमान चले आगे,
ढोल भाजे माये नि तेरे ढोल भाजे,