चाँद भी फीको पड़ गयो रे

चाँद भी फीको पड़ गयो रे,
सांवरियो जादू कर गयो रे,

जो सजो है रूप संवारा सब के मन डे भायो,
रंग रंगीलो फागणियो फागण पे फागण छा यो,
भगता को मनड़ो हर गयो रे,
सांवरियो जादू कर गयो रे...

सजी धजी है खाटू नगरी सुग्रा ने शरमावे,
स्वर्ग छोड़ के कई देवता एथे रमन में आवे,
प्रेम मुदित माण्डो भर गयो रे,
सांवरियो जादू कर गयो रे,

मैं भी थारा दर्शन करने बड़ी दूर से आया,
अर्जी है सांवरिया से करदो मन का चाहा,
संजू भी चरने पड़ गयो रे,
सांवरियो जादू कर गयो रे,

download bhajan lyrics (174 downloads)