गोरी की लला आया

गोरी की लला आया आकर के धूम मचाया,
सारे शहरों और गाँव में सब के मन को हर्षाया,
देखो के लाल ग़ज़ानन्द अंगना आयो है,
दी जे में देखो सबको नाच नाचियो है,
गोरी की लला आया ...

चलो खुशियां आज मनाये मस्ती में झूमे गाये,
है सब का फ्रेंड गणेशा रहता है साथ हमेशा,
है इसकी छवि निराली महिमा देवो में न्यारी,
करता हु मुशा की सवारी पूजे इसे दुनिया सारी,
देखो के लाल ग़ज़ानन्द अंगना आयो है,
दी जे में देखो सबको नाच नाचियो है,
गोरी की लला आया ...

चन्दन का चौक पुलाओ कुम कुम रोली भी लगाओ,
पूजन की थाल सजाओ भक्तो देवो को मनाओ,
शिव पार्वती का लला बैठा है सारा मोहला,
क्या खूब सजी है गलियां जैसे भगो में गलियां,
देखो के लाल ग़ज़ानन्द अंगना आयो है,
दी जे में देखो सबको नाच नाचियो है,
गोरी की लला आया ...

तुम विघन विनाश्यक हरते भाई काल भी तुमसे डरते,
करे हाथ जोड़ तेरी सेवा भक्तो की सुन ले देवा,
अभिशेख शिवम् और राजा दीपेश का भाग जगा जा,
सारी दुनिया ने ठुकराया देवा तूने हमे अपनाया,
देखो के लाल ग़ज़ानन्द अंगना आयो है,
दी जे में देखो सबको नाच नाचियो है,
गोरी की लला आया ...
श्रेणी
download bhajan lyrics (180 downloads)