मेरी दादी की किरपा से मौज करेंगे

मंगल पाठ दादी का जो रोज करोगे,
मेरी दादी की किरपा से मौज करेंगे,

पाटे पर माँ झुँझन वाले की तस्वीर लगाओ,
रोली मोली तिलक लगा कर माँ को पुष्प चढ़ाओ,
जो ये मंगल पाठ सब लोग करो गे,
मेरी दादी की किरपा से मौज करेंगे,shb

घर में उस्तव या सगाई या कोई तोहार,
अमावस का दिन या हो नोवी गाओ मंगला चार,
शुद सफाई से दादी का ध्यान दरों गे,
मेरी दादी की किरपा से मौज करेंगे,

मंगल पाठ के बीच भक्तो आसान कभी न छोड़ो,
दादी जी के श्री चरणों से अपना नाता जोड़ा,
हर्ष कहे जो दादी जी का नाम जापो गे,
मेरी दादी की किरपा से मौज करेंगे,

श्रेणी
download bhajan lyrics (79 downloads)