ना हम किसी के ना कोई हमारा

ना हम किसी के ना कोई हमारा ,
झूठे जगत से किया किनारा,
ना हम किसी के ना कोई हमारा

देख ली तेरी दुनिया सारी हुई न किसी की क्या होगी हमारी,
बहुत देख लिया जगत का नजारा,
ना हम किसी के ना कोई हमारा ......

झूठे ये तेरी दुनिया वाले मुख जीने गोर मन जिनके काले,
हो के दुखी मैंने तुम को पुकारा,
ना हम किसी के ना कोई हमारा

मतलब के ये रिश्ते नाते ना ये याहा के ना ये वहाँ के,
ढूंढ लिया अब तेरा द्वारा,
ना हम किसी के ना कोई हमारा

मुश्किल हुआ तेरी दुनिया में रहना,
बांके बिहारी से ये मेरा कहना,
ना हम किसी के ना कोई हमारा
श्रेणी
download bhajan lyrics (294 downloads)