साईं दे रंग विच मैं रंगीला

कोई रंग सादा कोई रंग पीला,
साईं दा दर है बड़ा सजीला,
साईं दे रंग विच जो वी रंगियाँ,
वो तो कहंदा है,
साईं दे रंग विच मैं रंगीला ,

आपे रांजा बने मेनू हीर बनावे,
साईं दाता मेरी तकदीर बनावे,
दर तो तेरे आके बंदा बंदा कहंदा है,
साईं दे रंग विच मैं रंगीला...

दिल करदा है तेरे दर ते आवा,
मन दिया मुरदा तेथो पावा,
जो तेरा हो जांदा है ओ दुःख नि सह्न्दा,
साईं दे रंग विच मैं रंगीला ,

कदमा दे विच सिर नु मैं रखा तेरे नाम डा प्याला साईं मैं चखा,
दुनिया कुछ वि बोले मेनू फर्क नि पेंदा है,
साईं दे रंग विच मैं रंगीला ,

साईं बिक्षा देदे तू फ़कीर नु,
अब अपना बना ले तू समीर नु,
दर दर ढूंढे सारे ओ मेरे दिल विच रहंदा है
साईं दे रंग विच मैं रंगीला ,
श्रेणी
download bhajan lyrics (109 downloads)