मेरे साईं नु समज ये आइयाँ

मेरे साईं नु समज ये आइयाँ रमज़ा इश्क दिया,
हर किसे नु न समज आइयाँ रमज़ा इश्क दिया,

इश्क इश्क ता हर कोई करदा,
इश्क दा भेद ना जाने कोई,
रमज़ा इश्क दियां,
किसे नु न समज आइयाँ रमज़ा इश्क दिया,

अपनी अपनी दसे कहानी,
जिस तन लगियां ओही जाने,
अल्लहा मेरे मोला,
इश्क चडोनदा सूली यारो,
किसे नु न समज आइयाँ रमज़ा इश्क दिया

मस्ती दे विच हर पल रहंदा,
जीहने इश्क प्याला पीता,
इश्क नचोंदा यार दे वेहड़े करदा है मन्हैयाँ,
रमज़ा इश्क दियां......

इश्क च सहनु रब मिल जांदा मन हॉवे ये सचा,
पैरा दे विच पाके गुन्गुरु नच नच रब नु मनाना,
रमज़ा इश्क दियां....

इश्क न देखे जात पात नु,
इश्क दे खेल अवले,
अकला नाल काम औंदियाँ,
कर दिंदा है झले,
रमज़ा इश्क दियां....
श्रेणी
download bhajan lyrics (72 downloads)