मेरा बाबा खाटू वाला खोले किस्मत का ताला,

मेरा बाबा खाटू वाला खोले किस्मत का ताला,
जो दर पे आया उसका बेडा पार हो गया,
ये वीर बली से बाबा लखदातार हो गया,
मेरा बाबा खाटू वाला.......

मान किया का दुर्गे माँ की पहरा खूब लगाया,
कुदरत की फिर करनी देखो भीम बली टकराया,
हारा वो कुंती लाला तुम्हे कौन हारने वाला,
जो दर पे आया उसका बेडा पार हो गया,
ये वीर बली से बाबा लखदातार हो गया,
मेरा बाबा खाटू वाला.......

फिर क्या के सागर  के किनारे धुनि खूब रमई,
देख बली की भक्ति को माँ दुर्गे हरसाई,
तीन बाण दानुष दे डाला जीतो सृष्टि मेरे लाला,
जो दर पे आया उसका बेडा पार हो गया,
ये वीर बली से बाबा लखदातार हो गया,
मेरा बाबा खाटू वाला.......

राण भूमि में फिर आ कर के चमत्कार दिखलाये,
एक बाण से बर्बरीक ने पाते छेद दिखलाये,
फिर शीश दान दे डाला फिर बन गया खाटू वाला,
जो दर पे आया उसका बेडा पार हो गया,
ये वीर बली से बाबा लखदातार हो गया,
मेरा बाबा खाटू वाला.......

खाटू में आन विराजे श्याम का रूप कहाये,
मनोकामना पूरी होती दवार जो इसके आये,
लक्खा है रखवाला राज पल जपता इनकी माला,
जो दर पे आया उसका बेडा पार हो गया,
ये वीर बली से बाबा लखदातार हो गया,
मेरा बाबा खाटू वाला.......
download bhajan lyrics (146 downloads)