संगतां बड़ीयां, दर ते खड़ीयां

संगतां बड़ीयां, दर ते खड़ीयां, आई ना वारी मेरी दातीये।
सुखना दे नाल, आईआं घडीयां, आई ना वारी मेरी दातीये॥

सखनी चोलो अड़ खलोता, दाती तेरे द्वार ते।
कोई सहारा जद ना मिलेया, आ गया दरबार ते।
नैना छम छम लाईआं झड़ीयां, आई ना वारी मेरी दातीये॥

की मिलेगा तैनू मैया, लाल दा दिल तोड़ के।
छड दे रोसा, सुन लै मेरी, मैं खड़ा हथ्थ जोड़ के।
देदे दर्शन ना कर अड़ीयां, आई ना वारी मेरी दातीये॥

देख मेरा हाल दाती, पत्थर वि माँ रो पये।
या मेरी परवाह नहीं या, मेरे नसीबे सो गए।
कीते तरले मिन्नत्तान बड़ीयां, आई ना वारी मेरी दातीये॥

भोली मैया भोले बछड़े, गल्लां करदे भोलिआं।
वेख तेरे वेहड़े नच्दे, बन के आए टोलीयां।
सब दे चेहरे लालीआं चडीयां, आई ना वारी मेरी दातीये॥

याद तेरी विच जाग जागे के, राता कई ने गुजारिआं।
तू ना आई मैं नैना दीया खुलिआन रखीयां बारीयाँ।
तू सबना दीया बावा फड़ीयां, आई ना वारी मेरी दातीये॥
download bhajan lyrics (897 downloads)