जपते रहो हरि नाम हो

जपते रहो हरि नाम हो.....
तुलसी जी का माला

1. कहवा से आवे राम से लक्ष्मण 2
कहवा से आवे हनुमान हो....
तुलसी जी का माला...

2. अवधपुरी से आवे राम से लक्ष्मण 2
लंका से हनुमान हो.....
तुलसी जी का माला...

3. काहे करन के आवे राम से लक्ष्मण 2
काहे करन हनुमान हो.....
तुलसी जी का माला.......

4. धनुष तोरन के आवे राम से लक्ष्मण 2
लंका जलावे हनुमान हो.......
तुलसी जी का माला........

जपते रहो हरि नाम हो.......
तुलसी जी का माला........
श्रेणी
download bhajan lyrics (126 downloads)