तेरा रूप बड़ा विकराल

तेरा रूप बड़ा विकराल कालका डर लागे,
डर लागे माँ डर लागे,

बागो में तू फिरे अकेली,
तेरे खुल गये सिर के बाल,
कालका डर लागे.....

शीश मियाँ तेरे टिका सोहे,
तेरे मुह में जीबा लाल,
कालका डर लागे.....

हाथ मैया तेरे चुडा सोहे,
तेरी महंगी करे कमाल,
कालका डर लागे.....

गल मैया तेरे हरवा सोहे,
तूने पड़ी मुंड की माला,
कालका डर लागे.....

कमर मैया तेरे गाग्डी सोहे,
माँ भवसार रूप विराल,
कालका डर लागे.....

पाओ तेरे मैया पायल सोहे,
तू चले गुमत की चाल,
कालका डर लागे.....

download bhajan lyrics (244 downloads)