कइया सरसी रे कइया सरसी

कइया सरसी रे सांवरा,कइया सरसी
भोला टाबरिया ने भूल्या,कइया सरसी


जद जद महा पर आफत आवे,नाम तेरो ही भावे
और कोई दुःख बनते नाही,तू न देर लगावे
या आफत म्हारी भी भाया,टाळ्या सरसी रे
भोला टाबरिया ने भूल्या,कइया सरसी

घनी जगह से पता करि,सब याहि बतलावे
खाटू वालो श्याम धनि,तेरी नैया पार लगावे
हो लीले असवार तने तो आनो पड़सी
भोला टाबरिया ने भूल्या,कइया सरसी.......

डगमग डगमग डोले नैया सूझे नहीं किनारो
श्याम धनि तेरे भगता ने,तेरो एक सहारो
आज सरन में बाबा लेणो पड़सी से
भोला टाबरिया ने भूल्या,कइया सरसी.......




download bhajan lyrics (240 downloads)